Home National कांग्रेस पार्टी को पीएम की चुनौती,कहा हिम्मत है तो राजीव गांधी के...

कांग्रेस पार्टी को पीएम की चुनौती,कहा हिम्मत है तो राजीव गांधी के मान-सम्मान के नाम पर चुनाव लड़के दिखाए

596
0

चाईबासा।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिवंगत पूर्व पीएम राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर वन बताया तो कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों के नेताओं ने कड़ा विरोध दर्ज कराया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के प्रमुख सैम पित्रोदा समेत कई नेताओं ने इस बयान की निंदा करते हुए पीएम मोदी पर पलटवार किया। अब प्रधानमंत्री मोदी ने इन हमलों को लेकर झारखंड के चाईबासा में एक जनसभा के दौरान फिर से निशाना साधा। उन्होंने कांग्रेस पार्टी को चुनौती देते हुए कहा कि हिम्मत है तो आओ चुनाव मैदान में पूर्व प्रधानमंत्री (राजीव गांधी) के मान-सम्मान के नाम पर चुनाव लड़ लिया जाए।

राहुल पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा                      

रैली में मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा, ‘नामदार और उनके साथी अमर्यादित भाषा में प्रधानमंत्री को गाली देते रहते हैं। मैंने एक सभा में पुराने बोफोर्स के भ्रष्टाचार को याद कराया तो तूफान आ गया। कुछ लोगों के तो पेट में इतना दर्द हुआ कि बस दहाड़ मारकर रोना ही बाकी रह गया।’

मान-सम्मान के मुद्दे पर आइए मैदान में- मोदी
झारखंड के चाईबासा में पीएम मोदी ने कहा, ‘ये (कांग्रेसवाले) जितना रोएंगे उतनी ही पुरानी सच्चाई आज की पीढ़ी को पता चलेगी। 20वीं सदी में देश को कैसे एक परिवार ने लूटा, बर्बाद किया, यह भी 21वीं सदी के नौजवानों को पता रहना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘मैं नामदार के परिवार और उनके रागदरबारियों, चेले चपाटों को चुनौती देता हूं आज का चरण तो पूरा हो गया, आगे के दो चरण बाकी हैं, अगर हिम्मत है तो कांग्रेस के वह पूर्व प्रधानमंत्री, जिन पर बोफोर्स के भ्रष्टाचार के आरोप हैं, उनके मान-सम्मान के मुद्दे पर आइए मैदान में। देखिए, खेल कैसे खेला जाता है। अगर आपमें हिम्मत है, दिल्ली में अभी चुनाव बाकी है, आपके उस पूर्व प्रधानमंत्री के, जिनको लेकर आप दो दिनों से आंसू बहा रहे हो तो आओ चुनाव मैदान में।’

पीएम मोदी ने जनता को भोपाल गैस कांड याद दिलाया
नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘भोपाल में हजारों लोग, जो गैस लीक में मर गए थे और उस समय के प्रधानमंत्री ने जो काम किया था, वह सामने आ जाएगा। दम हो तो भोपाल हो, दिल्ली हो, पंजाब हो, उनके मान-सम्मान के मुद्दे पर हो जाए चुनाव। यह मेरी चुनौती है।’

पीएम मोदी ने कहा, ‘यहां की कोयला खदानों की कैसे बंदरबांट चलती थी, यह आप सभी ने अनुभव किया है। भारत के इतिहास का सबसे बड़ा कोयला घोटाला कांग्रेस ने देश को दिया है। एक ऐसा मुख्यमंत्री कांग्रेस और उसके महामिलावटियों ने दिया, जिसका एक मात्र लक्ष्य घोटाले करना था।’

जानिए, क्या है पूरा मामला
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने एक जनसभा के दौरान कहा था, ‘आपके (राहुल गांधी) पिताजी (राजीव गांधी) को आपके राजदरबारियों ने मिस्टर क्लीन बना दिया था लेकिन देखते ही देखते भ्रष्टाचारी नंबर वन के रूप में उनका जीवनकाल समाप्त हो गया। नामदार यह अहंकार आपको खा जाएगा। यह देश गलतियां माफ करता है लेकिन धोखेबाजी को कभी नहीं माफ करता।’ इस बयान के बाद पीएम मोदी के साथ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर विपक्ष ने चौतरफा हमले शुरू कर दिए।

‘महामिलावटी दलों में एक-दूसरे का गुनाह माफ होता है’

जनसभा में मोदी ने कहा, ‘इन महामिलावटी दलों में एक-दूसरे का हर तरह का गुनाह माफ होता है। 50-60 साल से जो दरबारी इन्होंने पाले-पोसे हैं, जो इकोसिस्टम तैयार किया गया है, वह इनके हर प्रकार के दाग धोने का काम कर रहा है।’

Previous articleअमेरिका ने कहा रियायती दर पर तेल बेचने का भरोसा नही दे सकते, इससे भारत को हो सकता है नुक़सान
Next articleपीएम पद का ऑफर मिलने पर अंबेडकर नगर से चुनाव लड़ सकती हैं मायावती