Home National आजम के ‘गढ़’ में अखिलेश चलाएंगे साइकिल

आजम के ‘गढ़’ में अखिलेश चलाएंगे साइकिल

33
0

मैनपुरी से मुलायम, बदायूं से धर्मेंद्र यादव, फिरोजाबाद से अक्षय और कन्नौज लोकसभा सीट से डिंपल यादव को टिकट

नई दिल्ली। इस वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव का बिगुल बिज चुका है। अगले सप्ताह आचार संहिता लगना तय है। ऐसे में गर्मी बढ़ने के साथ-साथ सियासी पारा भी चढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को समाजवादी पार्टी ने यूपी की 9 सीटों पर अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया। इन 9 उम्मीदवारों में मुलायम सिंह समेत चार प्रत्याशी यादव परिवार के ही सदस्य हैं।

समाजवादी पार्टी ने यूपी की मैनपुरी सीट से मुलायम सिंह यादव, बदायूं सीट से धर्मेंद्र यादव, फिरोजाबाद सीट से अक्षय यादव और कन्नौज लोकसभा सीट से अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को उम्मीदवार बनाया है।

हालांकि अखिलेश यादव ने पहले बयान दिया था कि उनकी पत्नी डिंपल 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी और वो खुद कन्नौज सीट से चुनाव मैदान में उतरेंगे। कन्नौज से डिंपल यादव के चुनाव मैदान में उतरने के बाद अब अटकलें लगाई जा रही हैं कि अखिलेश यादव खुद किस सीट से चुनाव लड़ेंगे।

आजमगढ़ से उतरेंगे अखिलेश? समाजवादी पार्टी से जुड़े सूत्रों की मानें तो सपा मुखिया अखिलेश यादव यूपी की आजमगढ़ लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। सपा-बसपा महागठबंधन बनने के बाद आजमगढ़ सीट को अखिलेश यादव के लिए चुनने के पीछे एक बड़ी वजह है। 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के बावजूद मुलायम सिंह यादव ने यहां से भाजपा उम्मीदवार रमाकांत यादव को हराकर जीत हासिल की।

मुलायम सिंह को इस सीट पर 340306 और भाजपा उम्मीदवार को 277102 वोट मिले। बसपा ने यहां से शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को टिकट दिया और उन्हें 266528 वोट मिले। इस चुनाव में सपा को 35.43 और बसपा को 27.75 फीसदी वोट मिला, जबकि भाजपा को 28.85 फीसदी वोट मिले। इसके अलावा 2017 के विधानसभा चुनाव में आजमगढ़ लोकसभा के अतर्गत आने वाली पांच सीटों में से सपा ने तीन और बसपा ने दो सीटों पर जीत हासिल की। भाजपा का यहां खाता भी नहीं खुला।

मुलायम के लिए चुनी गई मैनपुरी सीट आजमगढ़ सीट से वर्तमान में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव लोकसभा सांसद हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में मुलायम सिंह यादव दो सीटों आजमगढ़ और मैनपुरी से चुनाव लड़े और दोनों ही जगह जीत हासिल की थी। बाद में मुलायम सिंह ने मैनपुरी लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया और उनके ही परिवार के सदस्य तेजप्रताप यादव यहां से चुनाव जीतकर सांसद बने। शुक्रवार को जारी हुई सूची में मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी सीट से सपा का उम्मीदवार बनाया गया है। आजमगढ़ सीट को लेकर हालांकि अभी आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि यहां से अखिलेश यादव सपा के उम्मीदवार हो सकते हैं।
किस-किस को मिला टिकट शुक्रवार को समाजवादी पार्टी की ओर से जो सूची जारी की गई, उसके मुताबिक, मैनपुरी लोकसभा सीट से मुलायम सिंह यादव, बदायूं लोकसभा सीट से धर्मेंद्र यादव, फिरोजाबाद लोकसभा सीट से अक्षय यादव, कन्नौज सीट से डिंपल यादव, खीरी लोकसभा सीट से डॉ. पूर्वी वर्मा, हरदोई (सुरक्षित) सीट से उषा वर्मा, इटावा (सुरक्षित) लोकसभा सीट से कमलेश कठेरिया, रॉबर्ट्सगंज (सुरक्षित) लोकसभा सीट से भाईलाल कोल और बहराइच (सुरक्षित) लोकसभा सीट से शब्बीर बाल्मिकी को प्रत्याशी बनाया गया है। यूपी में हुए महागठबंधन के तहत समाजवादी पार्टी के हिस्से में 37 लोकसभा सीटें आई हैं, जबकि बसपा को 38 और आरएलडी को 3 सीटें दी गई हैं। बसपा और आरएलडी की तरफ से अभी कोई सूची जारी नहीं की गई है।

Facebook Comments